जो विश्व चैम्पियनशिप का खिताब जीत रही है : उसे अपने ही देश के मंदिरो में प्रवेश नही मिलता - HUMAN

Breaking

Sunday, 25 November 2018

जो विश्व चैम्पियनशिप का खिताब जीत रही है : उसे अपने ही देश के मंदिरो में प्रवेश नही मिलता




   ये मैरी कॉम भी पागल है शायद? 35 साल की उम्र में भी छठा गोल्ड मेडल जीतकर भारत का नाम रोशन करने में लगी  है। इसे नही शायद पता कि हमारे देश मे सबरीमाला मन्दिर और राम मंदिर की लड़ाई चल रही है और सभी युवा उसकी लड़ाई लड़ने को आतुर है। मन्दिर वहीं बनेगा कि नही और महिलाओं को मन्दिर जाना चाहिए कि नही यह हमारे देश की फिलहाल राष्ट्रीय समस्या है। संसद से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक और गली नुक्कड़ से लेकर बड़ी बड़ी टीवी की पंचायतों तक यही चल था है।


आपको बता दूं भारत की दिग्गज मुक्केबाज एमसी मैरी कॉम ने शनिवार को अपना छठा विश्व चैम्पियनशिप खिताब जीत लिया। #मेग्नीफिसेंट_मैरी' नाम से मशहूर 35 साल की #मैरीकॉम ने दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम के केडी जाधव हॉल में जारी 10वीं आईबा महिला विश्व चैम्पियनशिप के 48 किलोग्राम वर्ग के फाइनल में यूक्रेन की हना ओखोटा को 5-0 से मात देकर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया और विश्व रिकॉर्ड कायम किया। आप चाहो तो इन्हें बधाई भी दे सकते हैं खासकर वे जिन्हें उपरोक्त मुददों को छोड़कर देश की बाकि चीजों से लेना देना है।