HUMAN: Dr. Babasahab Ambedkar

Breaking

Showing posts with label Dr. Babasahab Ambedkar. Show all posts
Showing posts with label Dr. Babasahab Ambedkar. Show all posts

Friday, 9 November 2018

नही तो धिक्कार है इस शिक्षा पर : ऐसा अपने इस भाषण में बाबासाहाब ने क्यो कहा?

23:39 0
युवा कैसे होने चाहिए डॉ. बाबासाहब आंबेडकर ने मनमाड यहा युवा ओ को किया हुआ मार्गदर्शनपर भाषण कठीण परिश्रम  बाबासाहब अ...
Read more »

डॉ. बाबासाहाब आंबेडकर इस विद्यार्थी ने युवा अवस्था में जो प्रबंध लिखा : जाणिये उसके बारे में

18:12 0
विश्वभूषण डॉ. बाबासाहाब आंबेडकर  बाबासाहाब कि  तारुन्यावस्था अत्यंत संघर्षमय गुजरी | शिक्षा लेते वक्त ही उन्हे बहुत ज्यादा...
Read more »

Thursday, 8 November 2018

बाबासाहाब कि वो मुख्य पाच बाते : जो उन्होने धर्मान्तरण के वक्त कही थी.. जाणिये

21:42 0
धर्मांतर हो गया : अब कर्मांतर कब ?  सच बोले तो खुद के मा- बाप को तक गुस्सा आ जाता है| लेकीन कभी कभी खुद के मा - बाप को गुस्स...
Read more »

Wednesday, 7 November 2018

विद्यार्थियो ने राजकारण से दूर रहणा चाहिये : ऐसा बाबासाहाब ने क्यो कहा था?(विद्यार्थी दिवस)

20:47 0
विद्यार्थियो ने प्रत्यक्ष रूप से राजकारण में नही आणा चाहिये - डॉ. बाबासाहाब आंबेडकर  पुणे में ४/१०/१९४५ बाबासाहाब आंबेडकर जी ...
Read more »

Sunday, 4 November 2018

जब बाबासाहाब महार बटालियन सें मिलने कश्मीर गये तो रोये क्यो थे? वजह जाणिये ....

22:25 0
डॉ. बाबासाहब अंबेडकर जी का महार बटालियन के साथ एक प्रसंग कश्मीर की सीमापर दूसरी बार महार बटालियनने शौर्य और धैर्य का जो अभूतप...
Read more »

Saturday, 3 November 2018

जब देणी चाही थी दिलीपकुमार ने कॉलेज के लिये देणगी : क्यो मना किया था बाबासाहाब ने? जाणिये

23:06 0
औरंगाबाद का मिलिंद कॉलेज.. मराठवाड़ा, महाराष्ट्र के अंबेडकरी आंदोलन का मुख्य स्थान !मराठवाड़ा(महाराष्ट्र) शैक्षणिक रूप से आत्यंतिक प...
Read more »

धम्मदीक्षा समारंभ १४ अक्तूबर १९५६ नागपूर : आधी रात को कहा से आयी थी बुद्ध मूर्ती? जाणिये

15:06 0
धम्मदीक्षा समारंभ में आधी रात को कहा से आयी थी बुद्ध मूर्ती अपने लाखो अनुयायीयो के साथ बाबासाहब ने 14 अक्टूबर1956 को दीक्षा ली...
Read more »

Thursday, 1 November 2018

लौहपुरुष भी हार गये थे बाबासाहब के सामने,जानिए कैसे? : बाबासाहाब और सरदार पटेल

12:24 0
31 अक्टूबर याने कल लोहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती धूमधाम से मनाई गई। उनकी याद में दुनिया के सबसे बडे पुतले का लोकार्पण ...
Read more »

Saturday, 27 October 2018

जब नही थे माता रमाई के पास दुध खरीदणे के लिये पैसे : जाणिये वो करूनदेय किस्सा

23:18 0
जब रमेश बिमार था          डॉ. बाबासाहब अंबेडकर के बच्चो कि  बीमारी में पैसे ना होने के कारण उपचार के अभाव में उनका मृत्यू हुई...
Read more »

Wednesday, 24 October 2018

महार कांफ्रेंस 1936 में बोलते हुए डॉ.आंबेडकर ने : हिंदू धर्म की समीक्षा करते हुये कही थी ये बाते

19:55 0
महार कांफ्रेंस 1936 में बोलते हुए डॉ. भीमराव  रामजी  आंबेडकर ने कहा - मैंने सदा के लिए इस हिन्दू धर्म को छोड़ने का फैसला कर लिया है।...
Read more »

Monday, 22 October 2018

Monday, 8 October 2018

जब बाबासाहब के लाख बुलाने पर भी गाडगेबाबा मंच पर नही आ रहे थे : तब जाणिये क्या हुआ

00:18 0
      बाबासाहब और संत गाडगेबाबा           अचानक से गाडगे बाबा को देख बाबासाहब भी अचंबित हुए।ऊपर किये हुए दोनों हाथों में हार ले...
Read more »

Tuesday, 4 September 2018

स्वतंत्र भारत के प्रथम राष्ट्रपती : पी गये थे २०० ब्राम्हणो के पैर धोकर पाणी

23:13 0
चरणामृत! 1950 में जब देश में संविधान लागू हुआ और डॉ राजेंद्र प्रसाद स्वतंत्र भारत के प्रथम राष्ट्रपति हुए तब  काशी गये। चूँकि डॉ र...
Read more »

Sunday, 26 August 2018

बटवारे के खिलाफ थे आंबेडकर : लताडा था गांधी, नेहरू और जिन्ना को

19:57 0
नही रोक सके पाकिस्तान बनणे से ....             भारत के स्वतंत्रता आंदोलन और भारत के बंटवारे के बारे में डॉ. आंबेडकर की क्या राय थी...
Read more »

Wednesday, 15 August 2018

भारतीय होना अपने आपमे बौद्ध होणे जैसा है : स्वातंत्र्य, समता और बंधुता देश इसी त्रिसूत्री पर आधारित संविधानपे चलता है

23:16 0
बाबासाहब और बुद्धधम्म 13 ऑक्ट 1935 को बाबासाहबजीने धर्मांतरण कि घोषणा कि और 14 ऑक्ट 1956 को बुद्धधम्म का स्वीकार किया। मतलब पुरे 21...
Read more »

Wednesday, 20 June 2018

Wednesday, 13 June 2018

जातिव्यवस्था नष्ट करने की पूरी पूरी क्षमता है ऐसा यह डायनामाईट याने बूद्ध धम्म...

18:05 0
इंसानियत का रिश्ता और धम्मराज्य की पूर्नस्थापना       बूद्ध का धम्मचक्र प्रवर्तन वह एक महान ऐसी क्रांति थी । इस क्रांति ने मनूष्य क...
Read more »

Tuesday, 22 May 2018

१९३६ को मुंबई में दिया गया यह ऐतिहासिक भाषण जिसका उल्लेख दुनिया के प्रसिद्ध भाषणो में किया जाता है

21:47 0
      डॉ.आंबेडकर किसी पर भी अपना मत जबरद्स्ती से पेलणे वालो में से नही थे | अपने धर्मांतरण का मत अपने समाज के लोगो के सामने रख उनकी इसपर...
Read more »